योनी एग के 10 लाभ / 10 benefits of Yoni Eggs

योनी एग, अन्डे के आकर के पोलिश किये हुए बहुमूल्य पत्थर से बने हुए होते हैं जो योनी का स्वस्थ्य और जीवन उर्जा को मजबूती प्रदान करते हैं |यह मूलाधार को मजबूत बनता है | कुछ अण्डों में छेद होता है कुछ में नहीं होता | जिन में छेद होता है उस को खींच कर बहार निकल सकते हैं और जिन में नहीं होता वो अपने आप ही बहार आते हैं| योनी एग रतन के प्रभाव के अनुसार काम में लिये जातें  हैं जिस से हीलिंग होती है | इसके साथ एग से केगल व्यायाम भी कर सकते हैं जो योनी की मस्पेशियों को मजबूती प्रदान करती हैं| जैसे जैसे मांसपेशी मजबूत होती जाती है अन्डे का स्तर बदलता जाता है|  क्या ये आप को अद्भुत नहीं लगता…………

Yoni eggs are polished, egg-shaped, semi-precious stones designed to support the health and vitality of the vagina. Some come drilled with a string attached for easy removal while others have no string attached and encourage you to trust the journey the egg has in store for you — meaning you wait until it’s ready to release itself. Yoni eggs are inserted for the blessings of each respective stone but also for pelvic floor strengthening achieved by pelvic muscle exercises known as Kegels. The eggs take this practice to the next level as they provides the yoni with something to hold on to. These eggs are also helpful for practicing vaginal weightlifting, a practice that goes beyond contracting and relaxing of Kegels and demands full-on pelvic floor attention for lifting and holding an egg. If this sounds fascinatingly foreign, you gon’ learn today!

vaginal weightlifting
vaginal weightlifting

 

योनी के व्यायाम के 10 फायदे 

Here are 10 benefits of vaginal weightlifting:

1. सम्भोग सुख बढ़ाना / Increase your orgasms

कोई भी औरत सम्भोग को अधुरा महसूस करती है यदी उस में परम आनंद की अनुभूति  ना हो|  यह मूलाधार को मजबूत बनाने से प्रापत किया जा सकता है|

No sexually active woman should be experiencing sex without the bliss kiss! We are also responsible for our own pleasure and orgasms and this is one of the ways to achieve them by strengthening your pelvic floor.

2. बहतर और तीव्र परमानद का अनुभव होना / Experience better, more intense orgasms

यह ना सिर्फ परमानद का सुख का अनुभव कराता है बल्कि उस की तीव्रता भी बढ़ता  है| क्या कभी आप को पुरे शरीर में परमानद की लहर का अनुभव हुआ है ? हाँ, यह आप को ब्र्हमंदीय सुख का अनुभव दे सकता है|

Not only will your orgasms increase but they will become more intense. Have you ever had a full body, out of this world, cosmic orgasm that stops space and time? Well, yeah, it’s possible.

3. अपनी धार को शुरू करें / Get your squirt on

सिर्फ नर ही स्वखालित नहीं होते , औतें भी स्वखालित होती हैं | औरतों के स्वख्लन को कुछ लोग “अमृत द्रव्य” कहते हैं या “दिव्य द्रव्य” भी कहते हैं | योनी एग के लगातार उपयोग से उस को आसानी पाया जा सकता है|

You do know men aren’t the only ones who ejaculate, right? When women do, some people call the fluid “Amrita” or “Nectar of the Goddess.” The word is Sanskrit and literally translates to “immortality.” Frequent practice with Goddess eggs can help you achieve this.

4. अपने अन्दुरुनी अंगों को मजबूत रखना | Keep your internal organs intact (i.e., no pelvic organ prolapse)

कभी कभी बच्चे के जन्म के दोरान अन्दुरुनी अंग कमजोर हो जाते है | हम में से बहूत सी महिलाएं नाच भी नहीं सकतीं , भाग नहीं सकतीं , जो पहले कर सकतीं थीं | हाँ , इस को दुरुथ किया जा सकता है | यह कोई बहूत बड़ा काम नहीं हैं|

Sometimes gravity and childbirth get the best of women. There are too many of us who have lost our ability to dance, run and feel like the women we once were. We can be healed. There is nothing too hard for goddess!

5. गर्भ का सामान्य होना और उस का जल्द ही भरना / Experience smoother childbirth and recover more quickly

गर्भ को बनाये रखने और उस को डिलीवर करने में योनी की मस्पेशियों का बहोत बड़ा सहयोग होता है | यदी वे मजबूत हैं तो ना सिर्फ गर्भ को जनने में आसानी होती है बल्कि डिलीवरी के बाद उस का भराव भी जल्दी हो जाता है|

I’m careful not to promise by using a  Egg you will have a happier, smoother childbirth experience because each experience is different. Pain is relative. But what I do know is the stronger your pelvic floor the better your ability to push and sustain the stress of giving birth.

6. अपनी भूख को बढ़ाये / Increase your sexual energy and appetite

योन  उर्जा ना सिर्फ विकास की उर्जा है बल्कि वह तो जीवन उर्जा है | जब हमारी योन उर्जा काम होती है हमारी बाकि सभी उर्जा भी कम हो जाती हैं|

Sexual energy is creative energy, is life energy. When your sex drive is low it can affect your overall quality of life.

7. मूत्र का रिसाव / Kiss urinary incontinence goodbye

हम में से बहुत सी महिलाएं , बच्चा जानने के बद , जोर से हंस नहीं सकतीं, जोर से खांस नहीं सकतीं, की कहीं मूत्र का रिसाव ना हो जाये | यह एक भरी समस्या है | कुछ ज्यादा उम्र की महिलाएं तो जरा स चलने पर  गिला कर देतीं हैं | यह सब योनी एग के लगातार उपयोग से ठीक किया जा सकता है|

How many of you, since giving birth, can’t laugh, cough or sneeze without letting out a little bit of pee when you do? This is serious stuff. No grown woman wants to risk walking around with pee-soaked panties.

8. अपना प्राकृतिक स्नेहन को बडाये / Increase your natural lubrication

योनी के व्यायाम , केगल व्यायाम इस को सामान्य करने में मदद करते हैं | यह सूखेपन से छुटकारा दिलातें हैं |

Yoni weightlifting will help cure dryness. Well, that and your water intake, your diet, and… you get the point!

ROSE QUARTZ YONI EGG | Reiki Infused With Free Gift Bag | Kegel Exerciser | Vaginal Weight | Decorative Egg | Healing Egg

9. अपने प्राण उर्जा को बढाएं / Increase your vitality

हम को अंदाजा भी नहीं है की हमारा स्वस्थ्य हमरी योनी के स्वस्थ्य प्र निर्भर करता है | कमजोर योनी का मतलब है कमजोर शारीर | योनी एग मेनोपोस और पूर्व मेनोपोस में भी सहायता करता है , जैसे की यह खून का बहाव बढ़ा देता है |

We might not realize it but vaginal health is at the center of our entire health and well-being. A weak and numb vagina means a very weak and unhealthy body.The Yoni Egg is also helpful in peri-menopausal and menopausal women, as it increases the blood circulation improving the vagina elasticity and keeping the vagina lubricated.

10. संवेदना का बढ़ना / Increase sensitivity

लगातार प्रयोग से योनी का अनुभव बढ़ जाता है जिस से संवेदना बढ़ जाती है | योनी एग के लगातार प्रयोग से ना सिर्फ अतिइंद्रिय आनंद की प्राप्ति की जा सकती है बल्कि मूलाधार से सम्बंदिथ सभी समस्यों का निदान भी हो जाता है|

Practicing with your egg will help you connect with your vagina in a way that provides more awareness resulting in greater sensitivity and pleasure. Again, understand your vagina is the center of your body. It is a part of your core. When you give it a lift, everything else will follow.Using the Yoni Egg consistently can prevent sagging of the organs (bladder, intestine, uterus, and rectum) which happens with aging. It works by strengthening the muscles used to hold the vital organs in place.

Other benefits of using a yoni egg include:

  • Reduce childbirth recovery time
  • Reduce menstrual cramps
  • Shorter and lighter menstrual cycles
  • Increase fertility
  • Stimulation for natural flow of hormones
  • Enhanced sexual energy & libido
  • Increase blood circulation to female reproductive system
  • Improve vaginal elasticity
  • Prevent sagging of internal organs caused by aging
  • Shrink fibroids
  • Reproductive health
  • Toning the walls of the yoni
  • Balancing the hormones
  • Preventing the decline of nerves, the bladder and uterus
  • Healing from past traumas
  • Awakening feminine power
  • Creating chi
  • Increasing overall pleasure in all areas of your life